कृषि समाचार

जुलाई अगस्त माह के अति आवश्यक प्रमुख कृषि कार्य यह है

गर्मी के बाद जुलाई-अगस्त में कृषि कार्य (Agriculture work july august 2022) बढ़ जाते हैं जानिए किसानों के लिए कौन-कौन से कृषि कार्य इन दोनों महीनों में आवश्यक है

Agriculture work july august 2022 | जून के अंतिम सप्ताह से लेकर 15 जुलाई तक खरीफ फसलों की बुवाई का कार्य लगभग पूरा हो जाता है। फसलों में सोयाबीन धान व अन्य फसलों की देखरेख संबंधी प्रमुख कृषि कार्य क्या क्या है जानिए।

सोयाबीन : जुलाई माह की शुरुआत में 4 इंच बारिश होने के पश्चात ही सोयाबीन (Agriculture work july august 2022) की बुवाई करें।

सोयाबीन की बुवाई के पूर्व बीज उपचार जरूर करें।

कृषि वैज्ञानिकों सोयाबीन के अधिक उत्पादन के लिए कृषि वैज्ञानिकों द्वारा अनुशंसित सोयाबीन बोएं।

धान फसल :‌‌ धान की मध्‍यम व देर से पकने वाली प्रजाति‍यों की रोपाई जुलाई महीने के पहले पखवाडे में, शीघ्र पकने वाली कि‍स्‍मों की रोपाई दूसरे पखवाडे में तथा सुगन्‍धि‍त कि‍स्‍मों की रोपाई अन्‍ति‍म पखवाडे मे कर दें।

धान की रोपाई से पूर्व 25 कि‍ग्रा / हैक्‍टेअर की दर से जि‍ंक सल्‍फेट खेत में मि‍ला दें परन्‍ते ध्‍यान रखें कि‍ फास्‍फोरस वाले उर्वरकों के साथ जि‍ंक सल्‍फेट कभी भी ना मि‍लाऐं।

धान में खैरा रोग के लक्षण दि‍खाई देने पर प्रति‍ हैक्‍टेयर 5 कि‍ग्रा जि‍ंक सल्‍फेट व 2.5 कि‍ग्रा चूना 800 लि‍टर पानी में घोलकर छि‍डकाव करें।

  • सब्‍जि‍यॉं : भि‍ण्‍डी, सेम, लोबि‍या, चौलाई तथा कद्दू वर्गीय सब्‍जि‍यों की नि‍म्‍न प्रजाति‍यों की बुआई करे।
  • लोबिया – पूसा सुकोमल
  • लौकी – पूसा नवीन, पूसा संतुष्‍टि‍, पूसा हाईब्रि‍ड 3
  • करेला – पूसा दोमौसमी, पूसा औषधि‍, पूसा हाईब्रि‍ड 2
  • चि‍कनी तोरई – पूसा स्‍नेहा
  • धारीदार तोरई – पूसा नूतन
  • पेठा – पूसा उज्‍जवल, पूसा उर्मी, पूसा श्रेयाली

फल (Agriculture work july august 2022) फसलें

  • आम की आम्रपाली, मल्‍लि‍का, दशहरी, पूसा सूर्य व पूसा अरूणि‍मा कि‍स्‍में तोडने के लि‍ए तैयार हो जाती हैं। फलों को इथ्रेल के घोल (1.8 मि‍ली प्रति‍ लीटर गुनगुने पानी मे) में 5 मि‍नट रखकर समान रूप से पकाऐं।
  • आम, अमरूद तथा पपीते में फल मक्‍खी की रोकथाम के लि‍ए इमि‍डाक्‍लोप्रि‍ड 3 मि‍ली दवा 10 लीटर पानी में घोलकर छि‍डकाव करें तथा मि‍थाईल युजि‍नोल फेरामोंन ट्रैप का प्रयोग करें।
  • नींबू वर्गीय फलों के पेडों में जड गलन तथा फाइटॉपथोरा बीमारी की रोकथाम के लि‍ए पौधों की जडों मे रि‍डोमि‍ल 2.5 ग्राम 1 लि‍टर पानी में घोलकर तथा अलीटे 60 से 120 ग्राम 1 लीटर पानी में घोलकर छि‍डकाव करें।

अरहर : अरहर की उन्‍नत कि‍स्‍मों की बूआई करें।

  • एक हैक्‍टेयर क्षेत्र के लि‍ए 10 से 15 कि‍लो बीज की आवश्‍यकता होगी।
  • राइजोबि‍यम कल्‍चर से उपचारि‍त बीज 60 -75 X 15-20 सेमी की दूरी पर बोऐं।
  • अरहर की प्रमुख कि‍स्‍मे: पूसा 991, पूसा 992, पूसा 2001 व पूसा 2002 है।
  • उपरोक्‍त सभी कि‍स्‍में 140 से 145 दि‍न मे पक जाती है जो दोहरे फसल चक्र के लि‍ए उपयुक्‍त है।

बाजरा : बाजरे की बूआई 15 जुलाई के बाद पूरे माह की जा सकती है।

  • एक हैक्‍टेयर क्षेत्र के लि‍ए 4 से 5 कि‍लो बीज की आवश्‍यकता होगी।
  • बाजरे की प्रमुख कि‍स्‍मे : पूसा 322, पूसा 23 है।
  • (पूसा कृषि‍ पंचाग, भा.क्अनू.सं.)

अगस्त माह के कृषि कार्य

धान फसल : गैर बासमती धान की अधि‍क उपज वाली कि‍स्‍मों (Agriculture work july august 2022) में रोपाई के 25 से 30 दि‍न बाद 30 कि‍लो नाइट्रोजन यानि‍ 65 कि‍लो यूरि‍या प्रति‍ हैक्‍टेअर तथा बासमती कि‍स्‍मों मे 15 कि‍लोग्राम नाइट्रोजन (33 कि‍ग्रा यूरि‍या) प्रति‍ हैक्‍टेयर की टापॅ ड्रेसि‍ंग कर दें। इतनी ही मात्रा से दूसरी व अन्‍ति‍म टॉप ड्रेसि‍ंग रोपाई के 50-55 दि‍न बादे करें

ध्‍यान रखे की टॉप ड्रेसि‍ंग करते समय खेत मे पानी 2-3 सेमी से अधि‍क ना हो।

धान के तना छेदक कीट की रोकथाम के लि‍ए, जब खेत में 4.5 सेंमी पानी हो, प्रति‍ हैक्‍टेयर 20 कि‍ग्रा कार्बोफयूरान दवा का प्रयोग करें अथवा क्‍लोरोपायरीफास 20 ईसी दवा 1.5 लि‍टर प्रति‍ हैक्‍टेयर की दर से 60 लीटर पानी मे घोलकर छि‍डकाव करें।

सोयाबीन : नींदाई – गूराई का कार्य करें।

अरहर : अरहर के खेत में नि‍राई गुडाई करके खरपतवार नि‍काल दें

इस समय अरहर में उकठा रोग, फाइटोफथोरा, अंगमारी व पादप बांझा रोग होता है इनकी रोकथाम के लि‍ए 2.5 मि‍ली डाइकोफॉल दवा 1 लीटर पानी में घोलकर एवं 1.7 मि‍ली डाइमेथोएट दवा एक लीटर पानी में घोलकर पौधों पर छि‍डकाव करें।

बाजरा :‌ बाजरे की बुआई के 15 दि‍न बाद कमजोर पौधों को नि‍कालकर लाईन में पौधे से पौधे की दूरी 10 से 15 सेंमी कर दें।

बाजरे की उच्‍च उत्‍पादन वाली कि‍स्‍मों में नाइट्रोजन की शेष आधी मात्रा यानि‍ 40-50 कि‍लोग्राम/ हैक्‍टेअर (या 87-108 कि‍ग्रा यूरि‍या) की टाप ड्रेसि‍गं कर दें।

सब्‍जि‍यॉं के लिए प्रमुख कार्य यह है

  • गोभी की पूसा शरद,पूसा हाईब्रि‍ड 2 प्रजाति‍ की नर्सरी तैयार करें।
  • अगेती गाजर जैसे पूसा वृष्‍टि‍ कि‍स्‍म की बुआई आरम्‍भ कर सकते हैं।
  • कद्दू वर्गीय सब्‍जि‍यों में मचान बनाकर उस पर बेल चढाने से उपज में वृद्धि‍ होगी व स्‍वस्‍थ्‍य फल बनेंगें।
  • बैंगन में थि‍रम 3 ग्राम या कैप्‍टान 3 ग्राम या कार्बेन्‍डाजि‍म 2 ग्राम प्रति‍ कि‍लोग्राम बीज की दर से उपचारि‍त करके बुआई करने से फोमाप्‍सि‍सं अंगमारी व फल वि‍गलन की रोकथाम करें।

फल फसलों के लिए कृषि कार्य

  • Agriculture work july august 2022 – तराई क्षेत्रों में आम के पौधों पर गांठ बनाने वाले कीडे गॉल मेकर की रोकथाम के लि‍ए मोनोक्रोटोफॉस 0.5% या डाईमेथेएट 0.06% दवा का छि‍डकाव करें।
  • आम के पौधों पर लाल रतुआ एवं श्‍यामवर्ण (एन्‍थ्रोक्‍नोज ) की बीमारी पर कॉपर ऑक्‍सीक्‍लोराइड 0.3% दवा का छि‍डकाव करें।
  • नींबू वर्गीय फलों में रस चूसने वाले कीडे आने पर मेलाथि‍यान 2 मि‍ली/ लीटर पानी में घोलकर छि‍डकाव करें।
  • पपीता के पौधों पर फूल आने के समय, 2 मि‍ली सूक्ष्‍म तत्‍वों को एक लि‍टर पानी में घोलकर छि‍डकाव करें।

यह भी पढ़िए….कृषि वैज्ञानिकों की सलाह : किसान सोयाबीन की पैदावार में हो रही गिरावट के चलते इन फसलों की भी बुवाई करें

सोयाबीन की बोवनी के समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, कृषि विशेषज्ञों से जानिए

सोयाबीन की बोवनी कर चुके किसानों के लिए आवश्यक बातें, कृषि विशेषज्ञों से जानिए

जुड़िये चौपाल समाचार से-

ख़बरों के अपडेट सबसे पहले पाने के लिए हमारे WhatsApp Group और Telegram Channel ज्वाइन करें और Youtube Channel को Subscribe करें, हम सब जगह हैं।

नोट :- धर्म, अध्यात्म एवं ज्योतिष संबंधी खबरों के लिए क्लिक करें।

नोट :- टेक्नोलॉजी, कैरियर, बिजनेस एवं विभिन्न प्रकार की योजनाओं की जानकारी के लिए क्लिक करें।

राधेश्याम मालवीय

मैं राधेश्याम मालवीय Choupal Samachar हिंदी ब्लॉग का Founder हूँ, मैं पत्रकार के साथ एक सफल किसान हूँ, मैं Agriculture से जुड़े विषय में ज्ञान और रुचि रखता हूँ। अगर आपको खेती किसानी से जुड़ी जानकारी चाहिए, तो आप यहां बेझिझक पुछ सकते है। हमारा यह मकसद है के इस कृषि ब्लॉग पर आपको अच्छी से अच्छी और नई से नई जानकारी आपको मिले।
Back to top button

Adblock Detected

Please uninstall adblocker from your browser.