कृषि समाचार

मंडी भाव साप्ताहिक समीक्षा : गेहूं, लहसुन, प्याज व अन्य फसलों के भाव सप्ताह भर क्या रहे, आगे क्या रहेंगे? जानें

कृषि उपज मंडियों में बीते पूरे सप्ताह गेहूं, लहसुन, प्याज एवं अन्य फसलों के भाव (Mandi Bhav Saptahik Samiksha) किस प्रकार उतार-चढ़ाव भरे रहे एवं आगे क्या रहने का अनुमान है जानें

Mandi Bhav Saptahik Samiksha- रूस यूक्रेन के मध्य चल रही जंग से उत्पन्न हालात का असर कृषि क्षेत्र पर ज्यादा पढ़ा है, क्योंकि रूस एवं यूक्रेन बड़े भूभाग में कृषि होती है। दोनों ही देशों में गेहूं की पैदावार अच्छी होती है। दोनों देश गेहूं के बड़े उत्पादक देश हैं। यही कारण है कि गेहूं की मांग विश्व स्तर पर अत्याधिक हो रही है। इसके कारण भारतीय बाजारों में गेहूं के दाम शुरुआत से ही तेज बने हुए हैं। इस लेख में हम आपको गेहूं के अलावा अन्य कृषि जिंसों के भाव सप्ताह बीते सप्ताह मंडियों में किस प्रकार रहे एवं आगे आने वाले सप्ताह में भाव की स्थिति क्या रहने वाली है इसको लेकर क्या अनुमान है यह बताएंगे। इसलिए इस लेख को अंतत जरूर पढ़ें।

साप्ताहिक समीक्षा की शुरुआत गेहूं के भाव से (Mandi Bhav Saptahik Samiksha)

मध्यप्रदेश की प्रमुख कृषि उपज मंडियों में रबी फसलों की कटाई के के बाद से ही गेहूं की आवक अधिक हो रही है। वैश्विक स्तर पर गेहूं की मांग अत्याधिक होने, निर्यात को बढ़ावा दिए जाने के कारण एवं समर्थन मूल्य से अधिक भाव पर गेहूं विक्रय होने के कारण किसान अपनी उपज लेकर मंडियों में अधिक पहुंचे। बीते सोमवार को गेहूं के भाव 2100 से 2300 रुपए तक मंडियों में रहे। लोकवन गेहूं के साथ साथ तेजस, पोशक मालवराज, पूर्णा एवं मील क्वालिटी के गेहूं के भाव भी बढ़े। गेहूं के भाव में और तेजी रहती किंतु मालभाड़ा बढ़ने के कारण किसानों को इसका फायदा नहीं मिला।

मंडी व्यापारी व्यापारियों के अनुसार आने वाले दिनों में माल भाड़ा स्थिर रहने और समर्थन मूल्य की खरीदी बंद होने के बाद भाव में तेजी का रुख रहेगा। बताया जा रहा है कि आने वाले सप्ताह में गेहूं के भाव 2500 रुपए के आसपास पहुंचने का अनुमान है। निर्यात को लेकर विदेश व्यापार नीति सरल एवं व्यापारी हितेषी होने के कारण निर्यात में किसी प्रकार की समस्याएं नहीं होने के कारण भाव में तेजी की पूरी संभावना है। आने वाले दिनों में यानी गेहूं का भाव कांडला में 2550 हो जाएगा। इसका फायदा किसानों को भी मिलेगा।

लहसुन के भाव क्या रहेंगे (Lahsun ke Bhav kya rahenge)

इस वर्ष लहसुन की खेती करने वाले किसानों को निराशा ही हाथ लगी, क्योंकि अन्य वर्षो की तुलना में इस वर्ष लहसुन की फसल में बीमारियां लगने के कारण लागत बढ़ गई थी, वही अब मंडियों में लहसुन के रेट कम मिल रहे हैं। बीते सप्ताह सोमवार से लेकर शनिवार तक लहसुन के भाव में ज्यादा घट बढ़ नहीं हुई। लहसुन के भाव 300 रुपए प्रति क्विंटल से लगाकर 7000 रुपए प्रति क्विंटल तक रहे।

मॉडल भाव 1000 से 1500 रुपए प्रति क्विंटल के बीच रहने के कारण किसानों को नुकसान ही हुआ। लहसुन एवं प्याज की खेती अधिकांशतः नीमच, मंदसौर, रतलाम क्षेत्र में बहुतायत से की जाती है। इसकी उपज भी नीमच, मंदसौर, रतलाम मंडी में अधिक पहुंचती है। इन मंडियों से जुड़े व्यापारियों की मानें तो 15 मई तक यही स्थिति बनी रहने की संभावना है। इसके पश्चात लहसुन के भाव में तेजी आने का पुरा अनुमान है।

प्याज के क्या भाव रहेंगे (Pyaj ke kya Bhav rahenge)

लहसुन की खेती के साथ-साथ प्याज की खेती भी मध्यप्रदेश में अधिक होती है। प्रदेश के बड़े रकबे में गेहूं की खेती के बाद लहसुन एवं प्याज की खेती ही की जाती है। इस वर्ष प्याज की पैदावार अच्छी हो रही है। बीते सोमवार को मंडियों में प्याज की आवक होने लगी मध्य प्रदेश की में प्याज की मंडियों के रूप में प्रमुख रूप से इंदौर नीमच मंदसौर कृषि उपज मंडिया है। इन मंडियों में पिछले सप्ताह प्याज की आवक अच्छी रही। इंदौर मंडी में प्याज के दाम पूरे सप्ताह 600 रुपए से लगाकर 1100 रुपए के मध्य रहे।

मंदसौर में नीमच मंदसौर में प्याज के दाम 700 से 1000 के मध्य रहे। वही जबलपुर कृषि उपज मंडी में बीते सप्ताह के दौरान प्याज के दाम प्याज 800 से 1,200 रुपए प्रति क्विंटल रहे। लेकर व्यापारी बताते हैं कि मई माह में अधिकांशतः प्याज खेतों से निकाला जा चुका है किसान अपनी उपज लेकर मंडियों में पहुंच रहे हैं जिसके कारण भाव कम होने की संभावना अधिक है। यह गिरावट आगामी सप्ताह में बने रहने की आशंका बात व्यापारी बता रहे हैं। हालांकि यह अस्थिर रहेगी मतलब जल्द ही प्याज के भाव में सुधार होगा।

चना, मसूर, मक्का, सोयाबीन एवं अन्य कृषि जिंसों के भाव क्या रहेंगे

बीते सप्ताह मध्यप्रदेश की प्रमुख कृषि उपज मंडियों में गेहूं, प्याज, लहसुन के अलावा चना, मसूर, मक्का, सोयाबीन एवं धनिया की आवक भी अच्छी रही। सर्वप्रथम चने के भाव की बात करें तो चने का भाव पिछले सप्ताह की शुरुआत के दौरान मंदा रहा हालांकि बुधवार गुरुवार को चने के भाव में तेजी दिखाई दी किंतु यह भी समर्थन मूल्य से कम ही थी। सोमवार से लगाकर बुधवार तक चने के भाव 4200 रुपए के आसपास बने रहे, जो सप्ताह के अंत तक 4800 रुपए तक पहुंचे।

मसूर के भाव सप्ताह में औसतन 6000 रुपए रहे। मक्का के भाव में तेजी रही मक्का पिछले सप्ताह 23 सो रुपए प्रति क्विंटल तक बिका। यह तेजी आने वाले सप्ताह में भी बनी रहने की संभावना है। इधर आने वाले खरीफ सीजन के पहले मंडी में सोयाबीन की आवक भी होने लगी है। सोयाबीन के भाव अभी 7500 के आसपास बने हुए हैं। सोयाबीन के भाव आने वाले सप्ताह में बढ़ोतरी पर रहने की पूरी संभावना है।

धनिया के भाव यह रहे

Mandi Bhav Saptahik Samiksha- मध्य प्रदेश के पश्चिमी क्षेत्र में मसाले की खेती के अंतर्गत धनिया की खेती भी की जाती है। आगर मालवा, मंदसौर एवं नीमच की कृषि उपज मंडियों में धनिया की आवक बीते सप्ताह ओसत रही वहीं बीते सप्ताह धनिया के भाव में गिरावट रही। धनिया जहां अप्रैल माह के दौरान 14000 रुपए प्रति क्विंटल तक पहुंच गया था, वहीं बीते सप्ताह इसके भाव में गिरावट होकर 12000 रुपए प्रति क्विंटल तक रहे। कृषि विशेषज्ञ बताते हैं कि आने वाले सप्ताह में धनिया के भाव में यही स्थिरता बनी रहने के आसार हैं। 20 मई के पश्चात धनिया के भाव में तेजी का रुख आने की संभावना व्यापारी जता रहे हैं।

ह भी पढ़ें...

आने वाले सप्ताह में लहसुन, प्याज एवं गेहूं के भाव की क्या स्थिति रहेगी जानिए, प्याज रुलाएंगा

प्याज-लहसुन में गिरावट, गेहूं धनिया एवं अन्य फसलों के भाव बढ़े जानिए आज के ताजा भाव

जुड़िये चौपाल समाचार से-

ख़बरों के अपडेट सबसे पहले पाने के लिए हमारे WhatsApp Group और Telegram Channel ज्वाइन करें और Youtube Channel को Subscribe करें, हम सब जगह हैं।

नोट :- धर्म, अध्यात्म एवं ज्योतिष संबंधी खबरों के लिए क्लिक करें।

नोट :- टेक्नोलॉजी, कैरियर, बिजनेस एवं विभिन्न प्रकार की योजनाओं की जानकारी के लिए क्लिक करें।

राधेश्याम मालवीय

मैं राधेश्याम मालवीय Choupal Samachar हिंदी ब्लॉग का Founder हूँ, मैं पत्रकार के साथ एक सफल किसान हूँ, मैं Agriculture से जुड़े विषय में ज्ञान और रुचि रखता हूँ। अगर आपको खेती किसानी से जुड़ी जानकारी चाहिए, तो आप यहां बेझिझक पुछ सकते है। हमारा यह मकसद है के इस कृषि ब्लॉग पर आपको अच्छी से अच्छी और नई से नई जानकारी आपको मिले।
Back to top button

Adblock Detected

Please uninstall adblocker from your browser.